अमेरिकामा के पेन्सलभानिया में रहरहल मधेशी द्वारा ई वरीष भी धुमधाम के साथ छठ मनावल जाई

1233

कातिक २४ । अमेरिका

हिन्दू धर्मावलम्बी लोग के सबसे बड़का आ महान परव छठ आजू के जमाना में विश्वव्यापी परव हो चुकल बा । नेपाल भारत मात्र ना होके विश्व के अनेकन देश में अब छठ परव धूम धाम से मनावल जाता । नेपाल के मधेशी लोग के सबसे बड़का परव छठ पूजा ही हवे । मधेशी संसार के जवन भी कोना में गईल आपन धरम संकृति साथ लेके गईल बाड़े । इहे क्रम में अमेरिका में रह रहल मधेशी लोग द्वारा उहवा ई साल भी छठ परव धूम धाम के साथ मनावल जाई ।

छठ के महिमा अपरमपार बा, चाहे कोई कतहों रहो माकिर आपन मातृभूमि आ धर्म–संस्कृति भुलाए के ना चाहि, ओकर संरक्षण आ प्रवद्र्धन करेके चाही अउरी आपन भावि पुस्ता के भी आपन धर्म संस्कृति सिखावे चाही के मूल उदेश्य का साथ एक दूसरा से भेट-मुलाक़ात करेके उदेश्य से अमेरिका के पेन्सलभानिया राज्य के आसपास रह रहल मधेसी लोग द्वारा हर वर्ष जईसने ई बरष भी महान पर्व छठ धुमधाम के साथ मनावल जाई।

अमेरिका स्थित मधेशी अगुवा एवम् समाजसेवी अरविन्द सिंह के मुताबिक पिछिला ४-५ वर्ष से आपन संस्कृति, संस्कार जगेर्ना आ भावी पुस्ता के हस्तांतरण के उदेश्य से अइसन कार्य सब करत आ रहल बा लोग आ आगे भी निरन्तर होत रही ।

अइसन जवन भी कार्य होला ओमे युवा, बाच्चा लोग के उत्साह आ बुजुर्ग लोग के हौसल्ला देख के आउर जोस आ खरोस के साथ अइसन कार्य करत रहेके के प्रेरणा मिले बात सिंह बतवनी ।

अगुवा सिंह के मुताबिक १३ नोभेम्बर मंगलवार का दिन साँझ (सझिया घाट ) आ १४ नोभेम्बर बुधवार के बिहनइया (भोरवा घाट ) छठ होखे जात बा जेकर स्थान 406 Windsor cir, exton pa 19341 में रही । उक्त छठ पूजा में न्यूयार्क, न्यू जर्सी, पेन्सलभानिया राज्य के मधेशी बुद्धिजीवी, समाजसेवी, विधार्थी, यूवा लगायत सबकर उल्लेख्य सहभागिता रहेके जनावल गईल बा ।

advertisement

राउर टिप्पणी

राउर टिप्पणी लिखी
Please enter your name here