अमेरिका के पेन्सलभानिया में भी आजू महापर्व छठ हर्षोउल्लास के साथ मनावल जा रहल

    249

    कार्तिक, १६ अमेंरिका –

    मधेशी लोग के सबसे बड़का धार्मिक पर्व मानल जाए वाला महापर्व ‘छठ’ अब क्षेत्रीय भा राष्ट्रिय मात्रे ना रहके अन्तर्राष्ट्रिय पर्व भी होगइल बा । मध्यदेश से शुरुवात भइल छठ आजू के दिन में संसार के मय जगह प बड़ा धूमधाम से मनावल जा रहल बा । भारत के पटना, दिल्ली, मुंबई से लेके सिंगापूर, मलेसिया, दुबई, कनाडा आ अमेरिका तक छठ पर आजू के दिने मनावल जा रहल बा ।

    मध्यदेशीय समाज संसार के कवनो ठाँव में जाव लेकिन उ आपन धर्म, भाषा, कला, सँस्कृति के संरक्षण आ संवर्द्धन करत रहेला । ई कुल ऊ कभी भोर ना पाराला । साथे आपना बालबाच्चा के ज़रिए से एसे जोड़े के कोशिश करत रहेला ।

    एकरे के क़ायम राख़त जे जहां रहो उहवे आपन भाषा, आपन मातृभूमि, पहिचान, धर्म–संस्कृति, पर्व त्योहार ना भुलाके बाढ़ावा देत रहो । संरक्षण, प्रवर्द्धन करत भावी पुस्ता के भी सिखावत रहो के उद्देश्य के साथ साथ आपन सब जान पहचान के मित्र, हित कुटुम्ब से मुलाक़ात होखो कहके अमेंरिका के पेन्सलभानिया राज्य के अगलबगल में रहल मधेशी सब मिल के आउर साल जइसने ई साल भी बड़ा धूमधाम के साथ आजू महापर्व छठ मना रहल बा ।

    अमेरिका स्थित मधेशी अगुवा एवम् समाजसेवी अरविन्द सिंह के अनुसार महापर्व छठ के महिमा अपरम्पार बा। ”एमे एगो अपनेआप अलग किसिम के शक्ति मिलेला आ दोसर हमनी के समाजे अइसन बा कि हमनी जहाँ रही हमनी से अपन संस्कार, भाषा , रितिरिवाज , पर्व त्योहार ना छुटेला ” अरबिन्द कहानी ”हमनी आपना आपना तरीक़ा बढाबते रहेनी सब ।ओइसे त कार्तिक महिना हि पुरा पर्व त्वहारके महिना होला । ए पुरा महिना आदमी शकाहारी रहेला । देखल जाला कि दशहरा बितिते हमनी के मनमे एगो दोसरे किसिम के उत्साह, उमंग आ उर्जा आजाले ।  उ ह महापर्व छठके । ओहिसे हमनी सब लोग मिलके ६-७ पहिले वर्ष पहिले आपन संस्कृति, संस्कार जगेर्ना आपना भावी पुस्ता के सिखावे के उदेश्य से छठके शुरूवात कइनी जेकर निरन्तरता हमनी देत रहेनी । अब धिरे धिरे हमनी के संख्या में बढ़ोतरी का चलते लोग आपना सुविधा अनुसार कुछ आउर जगह मनारहल बा । इ ख़ुशी के बात बा । सब जगह होखो आ होखेके भी चाही।”

    आयोजक सुभाष कुमार बैठा के अनुसार साथी सबके सहयोग आ उत्साह देख के अइसन काम सब में आउर मन लागेला आ उत्साह भी बढल बात बतवनी । बैठा  महापर्व छठ पर आगा बतवनी की ”ए में बाच्चा सब के मनोरंजन के साथ साथ आपना माटी प्रती के लगाव देख के आउर उर्जा मिलेला । अइसने सब दिन मेित्र लोग के सहयोग रही त ए चिझ के निरन्तरता भविष्य में सब दिन रहले रही ।आशा बा साथी लोग हरदम सहयोग करत रही ।”

    हरेक साल के तरह ए साल नवम्बर २ शनिचर के दिन साँझ (सझिया घाट ) आ नवम्बर ३ एतवार के सबेरे (भोरवा घाट ), 406 Windsor cir, exton pa 19341 पता पर महापर्व छठ मनावे जा रहल आ एमे मुख्यतः पेन्सलभानिया, न्यूयार्क, न्यूजर्सी , अल्बानी के लोग के व्यापक सहभागिता हो रहल के जानकारी आयोजक देले बा ।

    advertisement

    राउर टिप्पणी

    राउर टिप्पणी लिखी
    Please enter your name here