गरिबि निवारण कोष के इकाई कार्यालय, पर्सा मे कोष अन्तर्गत कार्यरत सामाजिक परिचालक सब से ताला बन्दी

93

बीरगंज, १४ चैत /
पर्सा के गरिबि निवारण सामाजिक परिचालक सब सम्पूर्ण कामकाज ठप्प पारत ४ दिन से आन्दोलित भइल बा । गरिबि निवारण सामाजिक परिचालक सब गरिबि निवारण सामाजिक परिचालक कर्मचारी संघर्ष समिति गठन कर के स्थानिय तह मे समायोजन के मांग करत आन्दोलन सुरु कइले बा । संघर्ष समिति से तय भइल आन्दोलन के कार्यक्रम अन्तर्गत आजु गरिबि निवारण समन्वय इकाई कार्यालय, पर्सा मे ताला बन्दी कइल गइल बा । साबिक स्थानिय शासन तथा सामुदायिक बिकास कार्यक्रम ९ीन्ऋम्ए० के सामाजिक परिचालक सब के संघिय मामिला तथा समान्य प्रशासन मन्त्रालय से करारमा राखेके निर्णय भइल लगते गरिबि निवारण सामाजिक परिचालक सब भी आन्दोलन सुरु कइले बा ।

दोस्रो चरण के स्थानिय शासन तथा सामुदायिक बिकास कार्यक्रम पौष १६ गते से फेज आउट भइला पर यी कार्यक्रम अन्तर्गत कार्यरत सामाजिक परिचालक सब आन्दोलित भइरहे त चैत १२ गते मन्त्रालाय ओलोग के मांग के सम्बोधन करत साबिक कार्यरत स्थानिय तह के वडा मे सामाजिक परिचालक आ कार्यालय सहायक रुप मे राखे के निर्णय कइले रहे । यी निर्णय शनिचर के सार्बजनि भइल लगतै आइतबार से गरिबि निवारण सामाजिक परिचालक सब आन्दोलन सुरु कइले रहे । गरिबि निवारण कार्यक्रम भी दोस्रो चरणको कार्यक्रम चैत से फेज आउट हाखे लागला से यी कार्यक्रम अन्तर्गत के सामाजिक परिचालक सब भी आन्दोलित भइल बा ।

७ बर्ष तक संचालन मे रहल एल.जि.सि.डि.पि. कार्यक्रम के सामाजिक परचालक सब के नेपाल सरकार से स्थानिय तहमा समायोजन करे के तयारी कइला पर हमनी भी ९ बर्ष से गरिबि निवारण कार्यक्रम अन्तर्गत विभिन्न स्थानिय तहमा कार्यरत रहला चल्ते स्थानिय तह मे समायोजन करे के परल गरिबि निवारण सामाजिक परिचालक लोग के बात रहल बा । गरिबि निवारण संचालन भइल एगो स्थानिय तह के वाड मे ५० लाख से एक करोड तक रकम रहला से ओही रकम ब्यवस्थापन कइला पर हामनी के स्थानिय तह मे समायोजन कर सके के गरिबि निवारण सामाजिक परिचालक सब के तर्क रहल बा । स्थानिय तह मे योग्यता अनुसार समायोजन करे के, परिश्रम के उचित मूल्यांकन करे के, विभे करे के नामिली लगायत के नारा सहित जिल्ला समन्वय समिति, पर्सा मे रहल गरिबि निवारण इकाई कार्यालय मे सामाजिक परिचालक सब अनिश्चित काल के खातिर तालाबन्दी कइले बा ।

यस भन्दा पहिला संघर्ष समिति से प्रमुख जिल्ला अधिकारी मार्फत प्रधानमन्त्री, गरिबि निवारण कोष इकाई कार्यालय, पर्सा आ जिल्ला समन्वय समिति, पर्सा के सभापति के ज्ञापन पत्र बुझाइले रहे । पर्सा मे गरिबि निवारण कोष अन्तर्गत ४७ जना सामाजिक परिचालक सब कार्यरत रहल बा । चैत मसान्त देखी गरिबि निवारण कार्यक्रम के अन्योल भइला के चल्ते ९ बर्ष देखी नेपाल सरकार के ही कार्यक्रम अन्तर्गत अनेकन स्थानिय तह मे काम करत अइला से देश नयाँ संरचना मे गइला पर हमनी के भी एल.जि.सि.डि.पी जस्तै स्थानिय तह मे समायोजन करे के मांग राख्त संघर्ष समिति के संयोजक समिर कुमार पटेल बतइलन । पर्सा से सुरु भइल आन्दोलन बारा, रौतहट, सर्लाही मे भी सुरु भइल अध्यक्ष पटेलले जनइलन । बाकी रहल महतोरी, सप्तरी लगायत जिल्लाहरु मे भी संघर्ष समिति गठन करत प्रदेश स्तर के संघर्ष समिति करे के आ ओकरा बाद अवर प्रदेश के भी जिल्ला मे भी संघर्ष समिति गठन करत देश भर ही कार्यक्रम संचालन रहल ४५ जिल्ला मे आन्दोलन करे के योजना रहल संगठन बिस्तार समिति के तुल्सा अधिकारी बतइली ।

advertisement

राउर टिप्पणी

राउर टिप्पणी लिखी
Please enter your name here