दारु के मार मे मधेश के दलित महिला

431

बिमला गुप्ता, आसाढ २६

पर्सा जिल्ला के अधिकतर गावँसब मे अभि खुलेआम रुप मे अवैद्ध घरेलु दारु के दोकानसब संचालन मे अईलाबाद खास करके दलित समुदाय के महिलासब एहकर प्रत्यक्ष मार मे परल बाडि । रोजाना मजदुरी करके कमाइल रोपेया पैसा मरदलो दारु के सेवन मे हि खर्चा करदेहला बाद घर खर्चा तक चलावेला दिक्दारी होरहल दलित महिला सभन के सिकाईत रहल बा । गैर दलित महिला सभन के भि ऐसनका समस्या के सामना करेके पडरहल बा माकिर खास करके दलित समाज मे घर घर मे मदिरा सेवन कर्ता के संख्या बढ रहला से एह समुदाय के जनानी सभन बेसि आजित भईल बाडि ।

दलित समुदाय के मर्दानासब रोजाना दारु के नसा मे भईला बाद एह समुदाय के जनानी सभन घरेलु हिसां के तक सिकार होरहल बाडि । अपने मरद से रोजाना बलत्कार आ यौन हिसां के सिकार तक होरहल पिडा उलोग के बा । माकिर गावँ के अगुवा सभन के आपन समस्या सुनईला बाद एक महिला ओहपर दलित भईला के चल्ते ध्यान नादेहल करेके सिकाईत महिला सभन के बा ।

अभि बारा पर्सा रौतहट लगाएत प्रदेश नं. २ के हि दलित सभन के अवस्था देखल जाव त बहुते दयनीय रहल बा । राज्य से भि बिभेद मे परल दलित सभन के अवस्था आगे नाबढला के कारण मदिरा के सेवन भि एक हवे । एक त चेतना के कमि ओहमे अशिक्षा जेकरा कारण मदिरा के रोजाना सेवन से आपना सभन के स्वास्थ्य मे कईसनका असर करी कहके एह बारेमो खासे जानकारी नईखे । १६ बरिष के उमीर पहुचते मातर दलित समुदाय मे पुरुषलोग दारु के सेवन करेलागेके दलित अगुवा सभन के कहनाम बा ।

देश मे अभिन तिन तह के सरकार गठन होचुकल बा माकिर एह समस्या पर केहुके ध्यान नईखे पहुचे सकत । प्रदेश २ के सरकार अभिन “बेटि बचाई बेटि पढाई” अभियान हि चलवले बा माकिर एह अभियान मे खुलेआम रुप मे दारु के बिक्रि बितरण मे रोक लगावेला भा तराई मधेश के महिला सभन पर होरहल रहल समस्या के उपर कवनो योजना नईखे समेटले । स्थानिय सरकार के बात कईल जाव त अभिन अपने पालिका मे दारु के भट्टिसब संचालन भईला बाद भि कुछउ नईके करेसकल । उल्टे जनप्रतिनिधिसब दलित सभन के भोट लेवेला मदिरा के लोभ देखावेके आ अनेकन काम करावेके दलित अधिकार समाज पर्सा के अध्यक्ष मनोज राम बतवनी । उहाँ के कहनी गावँ के सम्पन्न व्यक्तिसब कवनो भि काम करईला बाद रोपेया से भि दारु के लोभ देखावेके प्रवृति से भि दलित सभन के आदत मे सुधार नाआवे सकल बतवनी ।

पर्सा के महुवन आ बलुवा मे हि कुल १५ गो जेतना दारु के भट्टि दोकान रहल बा । ५ सय घर रहल महुवन गाव मे २५० घर जेतना दलित सभन के हि बास रहल बा । बड संख्या मे रहल दलित समाज के बसेरा रहल महुवन गावँ के दलित बस्ति मे हरेक घर के मर्दाना सभन कमाए से भि रोज के दारु सेवन मे हि मस्त रहेलन ।


वीरगंज महानगरपालिका वडा नं. २२ अन्तर्गत मनियारी गावँ मे खुलेआम रुप मे अवैध घरेलु मदिरा के कारोवार बढ्ते गईलाबाद ओह गावँ के जनानी सभन रोजाना मार पिटाई के सिकार होरहल महिला सभन सिकाईत रहल बा । माकिर एह समस्या के उपर जनप्रतिनिधि प्रहरी प्रशासन केहुके ध्यान नापहुचल पिडित महिला सभन के सिकाइत रहल बा ।

पर्सा के मनियारी गावँ चमरपट्टि के रहनीयार अनिता देवी गावँ मे हि खुलेआम रुप मे दारु के भट्टिसब संचालन होरहला से मरद लोग के सबेरे से संझिया के रहेके जगह दारु के भट्टि हि बनल सिकाईत कईनी । जेकरा चल्ते आपनासब मरद के रोजाना मरणासन्न होखेलाखान पिटाई के सिकार तक भईल बतवनी । दारु के दोकान के चल्ते एह गावँ के पुरुषलोग कमईल जेतना सभि रोपेया दारु पिके हि ओरिआवल करेके सिकाईत उहे गावँ के सुनिता देवी के बा ।

मनियारी गावँ के कान्ति देवी अवरो खेत मे बनिहारी पर काम करेलि दिन के ३ किलो धान कमइला के भाव ९० रोपेया होखेला माकिर जेकरा से घर खर्चा चलावल बहुते दिक्कत बा माकिर उन्कर मरद के घरायसि जिम्मेवारी से कवनो मतलब नारहेला । गावँ मे रहल दारु के भट्टिसब बिहनीया ६ बजे से अबेर रात ११ बजे तक खुलेला जेकरा कारण मनियारी गावँ मे रहल दलित समुदाय के मर्दाना सभन घर परीवार आ काम से भि दारु मे हि मस्त रहेलन । माकिर जनप्रतिनिधि आ पुलिस भट्टि बन्द करेला चाव नदेखावल उ लोग के सिकाईत बा ।

मनियारी वार्ड नं २२ के दारु भट्टि के फोटो

अपने जितल गावँ ठावँ मे खुल्ला रुप मे मदिरा भट्टि सभन के कारण होरहल समस्या सब के बारेमे पुछलाबाद वडा नं. २२ के वर्ड अध्यक्ष ग्यासुद्दिन मिया कहनी घरेलु मदिरा नियन्त्रण के खातिर आपना सबसे कोशिस जारी रहला बाद भि मदिरा विक्री वितरण करेवालासब अन्त शुल्क से प्रमाण पत्र लेवेवाला भईला से कारवाही करे नासकल बतवनी ।

एकरा के रोकेला पुलिस प्रशासन का कररहलबा कहके प्रश्न मे जिल्ला प्रहरी कार्यालय पर्सा के एस पि सोमेन्द्र सिंह राठौर कहनी स्थानिय पुलिस प्रशासन अवैध भट्टी नियन्त्रण आ घरेलु मदिरा प्रतिबन्ध मे कठोर रुप मे लागल बा । अवैध रुपमा चलरहल भट्टीसब के बन्द करेला आपना सभन से प्रयास जारी रहल माकिर एह पर पुलिस प्रशासन हि ना बल्कि स्थानिय सरकार के गम्भिरता पुर्वक ध्यान देवेके बात मे जोड देहत पुलिस प्रशासन के हि दोष देवेके आदत गलत भईल बतवनी । एह पर समाज के हरेक जिम्मेवार व्यक्ति के ध्यान पहुचेके मे जोड देहनी ।

पर्सा के मनियारी जईसन बारा पर्सा रौतहट के दर्जनौ गावँ मे अवैध भट्टी के दोकान सब चलरहल बा । पर्सा के जगरनाथपुर, हरपुर, जिङ्गना बर्वा लगाएत बारा जिल्ला के दलित गावँ तेलकुअवा, पिपरपाति, रहुवाई, हर्दिया, केवहि रौतहट के गौर मे रहल दलित गावँ डुमरीया लतमरी , राजपुर भिन्डाबर लगायत अधिकतर गावँ मे अवैध घरेलु मदिरा के कारोवार बढरहल बा । दलित अधिकार समाज पर्सा के अध्यक्ष मनोज राम के अनुसार बारा पर्सा रौतहट हि ना बल्कि प्रदेश २ के ८ गो हि जिल्ला मे रहल दलित सभन के ऐसनका समस्या रहल बा । खुलेआम रुपमा चलरहल दारु के भट्टि दोकान के चल्ते देहात क्षेत्र मे महिला हिंसा के घटनासब बढल बा । दलित पुरुष सभन के रोजाना दारु चहबे करि जेकरा मार मे घर के जनानी आ लईकन प्रत्यक्ष मार मे परल बाडन । राम के अनुसार ऐसन के समस्या रहि त दलितहरु के अवश्था कहियो नासुधर सकेके बतवनी ।

बोर्डर पार भारत के बिहार मे भि पुरुषलोग के रोजाना मदिरा सेवन से ओतहि के महिलासभन के ऐसन के समस्या के सामना करेके पडत रहे माकिर बिहार सरकार मदिरा के उपर पुर्ण रुप मे बन्देज लगवला बाद ओकर मार अभिन सिवान आर के जिल्लासब मे पडल बा । खुल्ला सिमानाका के चल्ते अभि भारतीयसब मदिरा सेवन के खातिर नेपाल के बोर्डर एने के जिल्ला मे आवल करेला जेकरा कारण अभि बारा पर्सा रौतहट लगाएत के जिल्लासब मे बेसि अवैध दारु के भट्टिसब संचालन मे आईल बा । समुदाय के ओर बढरहल ऐसनका बिकराल समस्या पर समय मे हि पुलिस प्रशासन लगाएत तिने तह के सरकार के ध्यान पहुचल जरुरी बा ।

advertisement

राउर टिप्पणी

राउर टिप्पणी लिखी
Please enter your name here