नावालीग लइकी उपर भइल यौवनदुर्ब्यावहारके आरोपित खातिर कडा करवाहीके मांग

    831

    वीरगंज, ०७ जेठ ।

    नावालीग लइकीके अश्लील वीडियो बनावेके अबैध धन्दामे लागल लोग प्रति प्रहरी नरम रूप से प्रस्तुत भइल आ उ घटनाके तोपझाप करे के प्रयास कर रहल क़हत बाल अधिकार संबर्द्धन अभियान समिति पर्सा आरोप लगवले बा ।

    समितिके जिल्ला संयोजक जया सह, सचिव राहुल साह आ सह सचिव नवीन पटेल आजू एगो प्रेस बिज्ञाप्ति जारी करत नावालीग लइकी सब उपर भइल दुर्व्यवहारके सत्य तथ्य खोज तलाश करके दोषीके कानूनी हिसाब से कडा से कडा करवाही करेके मांग कईले बा ।

    वीरगंजके आदर्शनगरमे रहल चित्रलेखा स्टुडियोमे ११ आ १४ सालके नावालीग लइकी सबके साथे यौवनदुर्व्यवहार आ ओकराके क्यामेरा मे कैद करत जइसन गम्भीर किसिमके गैर कानूनी काम करेवालनके रंगेहाथ पकड़के प्रहरी प्रशंसा योग्य काम कईले बा मने आरोपितके सम्बंधमे पर्सा प्रहरीके उदारपनके समाचार सार्वजनिक भइलाके बाद हमनी बालअधिकारकर्मी लोगके गम्भीर ध्यानाकर्षण भइल जारी प्रेस बिज्ञाप्तिमे लिखल बा ।

    लकडाउनमे निषेधाज्ञाके धजीया उड़ावत सोमारके संझिया स्टुडियो संचालक बैजु प्रजापति उनकर सहयोगी बादल जैसवाल आ मनीष मिश्रा समेत दु जना नाबालीग लइकीके पर्सा प्रहरी नियन्त्रणमे ले के मंगरके दिने ३ जने पुरुषके उपर सार्वजनिक अपराध मुद्दाके भीतर म्याद बढ़ईले बा । पर्सा प्रहरी से यी घटनाके सत्यताके बारेमे पुछला पर अनुसंधान हो रहल बा जिल्ला प्रहरी कार्यालय पर्साके प्रवक्ता प्रहरी उपरीक्षक वीरेन्द्र साही जानकारी देहले ।

    पकड़ाइल ३ जने पुरुष उपर सार्वजनिक अपराध मुद्दा दर्ता करके अनुसन्धान हो रहल बा आ २ जने नाबालीग लइकी लोग अभी हमनीके ही नियन्त्रणमे बा लोग प्रवक्ता साही जानकारी करवले ।

    घटनाक्रम देखला से कवनों हिसाब से सार्वजनिक अपराध अंतर्गत ना परी समितिके कहनाम बा । प्रहरी सार्वजनिक मुद्दा दर्ता करके सार्वजनिक कईला साथ ही चारुओर एकर बहुते बिरोध शुरू भइल बा । प्रहरी आरोपित से मिलके घटना दबावेमे लागल बा बहुते चर्चा भइलाके साथे पर्साके आलोचना भी हो रहल बा ।

    पर्सा प्रहरी प्रमुख महिला भइलाके बावजूद लइकी यौवनदुर्व्यवहारके आरोपित उपर कानूनन करवाही जरूर होई सब कोई के बिश्वास भइलाके बाद भी प्रहरीके रवैया गलत साबित हो सकता शंका लाग रहल बा ।

    जुवातास आ मदिरा सम्बन्धी समाचार मेल मार्फत भेजत पर्सा प्रहरी यी घटनाके बारेमे पत्रकारनके कवनों औपचारिक जानकारी अभी ले नईखे करवले । कवनों बिज्ञाप्ति ना भेजल देखके पर्सा प्रहरीके नियत उपर अभी स्थानीयलोग अंगूरी उठावल शुरू कईले बा लोग ।

    कोभिड़के संक्रमण से त्रासित भइल समयमे लइकी लोग यौवनदुर्ब्यावहार भईल एगो अलग से पीड़ाके स्थिति बना देहले बा । अनेकन अध्यान्नसे अइसन आपत बिपतके समयमे नाबालिक बच्चा सबके अधिकारके हननके उच्च जोखिम भी देखा रहल बा यी घटना ।

    एहीसे हमनी यी पर्सा जिल्लाके बाल क्लबके पूर्व सदस्य द्वारा गठित यी अभियान समिति आ बालअधिकारकर्मी लोग आज हमनी गुजर रहल परिस्थितिमे लईकनके अधिकार प्रति सरकार, सरोकारवाला आ अभिभावक लोग अउरी ज्यादा जिम्मेवारी आ गम्भीर होके खातिर प्रेस बिज्ञाप्ति मार्फत निहोरा कइल गईल बा ।

    advertisement

    राउर टिप्पणी

    राउर टिप्पणी लिखी
    Please enter your name here