पर्सा में हुलाकी सडक के अतिक्रमण ना हटल, समय में काम पुरा होखे में शंका

423

जिराभवानी, पर्सा । ०६ माघ,

पर्सा के ग्रामीण क्षेत्र में ठोरी गाँवपालिका के अध्यक्ष पदमलाल श्रेष्ठ हुलाकी सडक के ३० किलोमिटर ठोरी–चौतारा सडकखण्ड शिल्यानास कइले रहनी । तोकल समय में काम पूरा होखेमें भी विश्वास जनवले रहनी । माकिर निर्माण सुरु भइला एक वरीष बितला पर भी माटी के काम भी पुरा नइखे भइल । सडक में पडेवाला बस्ती भी हटावल नइखे गइल । कल्भर्ट के काम भी अधुरे रहल बा ।

हुलाकी सडक संघर्ष समिति के संयोजक पहलाद यादव, ‘एक वरीष में माटी के काम पुरा ना भइल, कहिया कल्भर्ट बनी आ कहिया पिंच होखी’, कहके सिकाइत करत, ‘समय में काम पूरा करावे खातिर ई क्षेत्र के स्थानीय सरकार आ निर्माण कम्पनी के दबाव देहल जरुरी बा । समय में सडक के काम पुरा करावे में सभी के साथ आ सहजोग जरुरी रहल बतवनी ।

हुलाकी सडक में जइसे तइसे काम भइला पर भी जगह-जगह में अतिक्रमण, मन्दिर बिद्युतीय पोल आ राष्ट्रिय निकुञ्ज के गाछि अभी बडका समस्या के रुप में खडा भइल ठोरी गाँवपालिका ५ के बिमल प्रधान कहनी । सडक में बनल अतिक्रमित बस्ती ना हटला पर हुलाकी सडक ना बनी कि कहके चिन्ता भी जनवनी ।

‘हमनी के सडक बनावे के जिम्मेंवारी देहल गइल बा’, निर्माण कम्पनी के प्रोजेक्ट म्यानेजर इन्जिनियर बिक्रम गेवाली कहनी कि, ‘अवरोध ना आई त तोकल गइल समय में काम पुरा होखी ।’ बस्ती बाहेक खुला क्षेत्र में ७० प्रतिशत माटी के काम हो चुकल दाबी कइनी । बस्ती में माटी के काम बाँकी रहल बतवनी । ‘सडक डिभिजन कार्यालय बस्ती के लागत भी उठइले नइखे, खाली करावे के चिठी भी नइखे देहले’, कहत उ, ‘अवरोध के रूप में बस्ती मात्र देखल गइल बा ।’ १ सय २० कल्भर्ट मेंसे ६० गो के काम पुरा भइल आ बाँकी के फागुन मसान्त भितर पुरा होखेके बतवनी । उनका मुताविक माटी सुखला के बाद ग्राभेल के काम होखी । अभी ग्राभेल स्टोक हो रहल बा ।

‘माटी सुख के डेनसिटी पुगला के बाद ग्राभेल कइल जाई’, कहत उ, ‘सयम में सडक निर्माण पूरा करे खातिर बस्ती जलदी हटावे के पडि ।’ ठोरी–चौतारा सडकखण्ड में १० गो बस्ती सडक के बगल में पडत बा । उहाँ कहुँ सडक पातर होखेवाला किसिम से अतिक्रमण भइल बा त कहुँ सडक के बीच में छोटा–छोटा मन्दिर, स्कुल, बिधुतिय पोल आ राष्ट्रिय निकुञ्ज के गाछि निर्माण में समस्या खडा कइले बा । हुलाकी मार्ग के अतिक्रमण आ अवरोध हटावे खातिर सरकारी निकाय कउनो ध्यान नइखे देहले ।

ठोरी–चौतारा अन्तर्गत जिराभवानी गाँवपालिका के चमरीहोल से ठोरी गाँवपालिका के चौतारा तक के ३०.८८ किलोमिटर खण्ड में तीन वरीष भितर हुलाकी सडक बनावे खातिर ठेकेदार कम्पनी बितल वरीष माघ २४ गते से काम सुरु कइले रहे । ११ मिटर चौडाइ भइल पिंच सडक बनावे खातिर कालिका बानिया जेभी कम्पनी से १ अरब २० करोड २० लाख रोपेया में ठेक्क सम्झौता भइल रहे । पुराना, जीर्ण भइल आ बने के बाकी रहल मिला के १ सय २० कल्भर्ट उ सडक में बनावल जाई । कम्पनी पर्सा के ग्रामीण क्षेत्र जिराभवानी गाँवपालिका के चमरीहोल से ठोरी गाँवपालिका के चौतारा सडक खण्ड के ३०.८८ किलोमिटर के हुलाकी सडक के निर्माण सुरु कइले बा ।

हुलाकी सडक बनला के बाद पर्सा के दक्षिणवर्ती ठोरी, चौतारा, भगवाननगर, सरस्वतीनगर लगायत चार दर्जन बस्ती के बासिन्दा के सदरमुकाम आवत जावत में सहज होखी । हुलाकी सडक जीर्ण भइला के चलते उ क्षेत्र के बासिन्दालोग वर्षात में भारत के भिखना ठोरी आ नरकटियागन्ज होत १३० किलोमिटर दुर होके पर्सा के सदरमुकाम वीरगंज बजार पुगेमें बाध्य होत आइल बाडन ।

advertisement

राउर टिप्पणी

राउर टिप्पणी लिखी
Please enter your name here