पशु कल्याण के ख़ातिर संचारकर्मी के साथ कलेया में भइल बतकही

11
पशु कल्याण

असाढ़ १५, कलेया ।

‘मानव कल्याण के बहोत भइल बात, तनिक बात पशु कल्याण के भी कईल जाव, मानव के साथ साथ पशु कल्याण के भी हो बात’ जैसन अनेकन जींगल के मार्फत जानवर (पशु) के कल्याण के बिषय पर कलैया के एवरेस्ट लॉज काल्हू शनिचर के बतकही कार्यक्रम सम्पन्न भइल ।

महिला हकहित पर काम करत आहल संथा ‘माण्डवी’ के आयोजना आ अन्तरराष्ट्रिय संस्था ‘ह्यूमन सोसाइटी इंटरनेशनल’ के सहयोग में संचालन भइल कार्यक्रम में स्थानीय के साथ बारा, पर्सा आ रौतहट के संचारकर्मी लोग के सहभागी करावल गइल रहे । पशु कल्याण के अनेकन तरीका आ पशु समस्या के ऊपर प्रकाश देत उक्त कार्यक्रम के उद्देश वरिष्ठ पत्रकार अनिल कर्ण बतवले रहनी ।

कार्यक्रम में पशु के कल्याण के ख़ातिर पशु सब के भी आदमी जैसने हर तरीका से रेखदेख, मायादाया आ दैनिक खानपान सहित अनुकूल बातावरण के जरूरी के साथे बेहतर बर्ताव के जरूरी रहल बात कार्यक्रम के सहयोगी संस्था एच.एस.आई. के नमिता बस्नेत बतवली ।

कार्यक्रम में बिशेष अथिती के रूप में आमंत्रित गढ़ीमाई मन्दिर संचालन तथा विकास समिति के सचिव मोतीलाल कुशवाहा पशु कल्याण पर बतकही कईल अपनाआप में बहोत जरूरी रहल बतावत एपर बहोत काम करे के जरूरी रहल बतवनी। ”पशु कल्याण के बात कईल ठीक बा, माकिर येकरा बहाने महागढ़ी माई मेला में होखेवाला बली प्रथा के बिरोध कईल उचित ना होई’, कुशवाहा कहनी, ‘कवनों भी परम्परा के एक बैग बन्द कईल ठीक बा होई, लोगन के चेतना आ सोच के बढ़ोतरी के संघे ई प्रथा भी खुद से कम होत चल जाई, एसे लोगन के चेतनशील आ पशु प्रति संवेदनशील बनावल जरूरी बा ।

कार्यक्रम में पशु कल्याण के बतकही बली प्रथा पर जादा केन्द्रित होत देखत कार्यक्रम के अध्यक्षता कर रहल आयोजक संथा के कार्यकारी निर्देशक अंजु झा संचारकर्मी लोग के ई कार्यक्रम के मूल उद्देश बली प्रथा मात्र रोके के ना रहल बतावत कार्यक्रम के उद्देश सम्पूर्ण रूप से पशु के हर सम्भव कल्याण करे के रहल बात बतवनी । ”कृपया, ई कार्यक्रम के गढ़ीमाई मेला के बाली प्रथा से ना जोड़ी, खाली गढ़ीमाई के बाली ना पूरा देश में केनहु भी बाली भा पशु के साथ दूरब्यवहार होता त ई संथा बिरोध करी, झा कहनी ।

कार्यक्रम में अन्यासहभागी संचारकर्मी लोग ई कार्यक्रम में युवा आ ग्रामीण महिला के जोड़े के बात उठवले । कार्यक्रम के सहजीकरण आयोजक संथा के सदस्य नरेश गुप्ता द्वारा कईल गइल रहे ।

advertisement

राउर टिप्पणी

राउर टिप्पणी लिखी
Please enter your name here