पोखरिया नगर बिकास खातिर संघ सरकार के ध्यानाकर्षण करवलख पोखरिया प्रतिनिधि मंडली

    390

    वीरगंज, २६ अगहन ।

    पोखरिया नगरपालिका के चौतरफ़ी बिकास खातिर पोखरिया नगरपालिका के एगो प्रतिनिधि मंडली संघीय सरकार के अनेकन मन्त्री से भेंट कईले बा । तीन दिन काठमाण्डू मे रहल प्रतिनिधि मंडली अर्थमन्त्री युवराज खातिवाड़ा, स्वस्थ्यमन्त्री भानुभक्त ढकाल, संघीय मामिला तथा समान्य प्रशासन मन्त्री हृदयेश त्रिपाठी, प्रहरी प्रमुख सर्वेन्द्र खनाल से भेंट कईले बा ।

    पर्सा जिल्ला के बीच भाग मे रहल पोखरिया इलाका प्रशासन कार्यालय के स्थापना, पोखरिया अस्पताल के बिकास लाय डाक्टरी ब्यावस्था, स्मार्ट सिटी खातिर बजेट, इलाका प्रहरी कार्यालय बिट स्थापना, नगरपालिका मे रहल कर्मचारी के कमी के ब्यावस्थापन खातिर संबन्धित मंत्रालय आ निकाय के ध्यानकर्षण करावल गईल मंडली मे सहभागी रहल लोग के कहनाम रहल ।

    पोखरिया नगरपालिका के प्रमुख दीप नारायण रौनियार ०७४/७५ के चैत महिना मे टेण्डर निकाले के काहला पर भी अभी ले स्मार्ट सिटी के काम नईखे होखे सकल, पोखरिया अस्पताल के बिकास लाय संघ केन्द्र के आ केन्द्र संघ के देखा रहल बा, कर्मचारी के कमी से नगर बिकास के काम आगा नईखे बढ़े सकत एकरा बारे मे भी संबन्धित मंत्रालय के ध्यानकर्षण करावल गईल बतवले लोग ।

    पोखरिया अस्पताल के सुन्दर भवन बा, ९ वा तह के दरबंदी भी बा माकिर डाक्टर नईखे लोग, सर्जन आ गाइनो डाक्टर के जरूरी बा । पहिले के छात्रबृती के ले के अभी जम्मा ६ गो डाक्टर रहे लोग माकिर छात्रबृती के डाक्टर चल गईला के बाद अभी जम्मा ३ गो डाक्टर ही बा लोग ।

    प्रदेश सरकार मे ओरहन देहला पर उ लोग संघ मे जा के कही कहेला लोग आ संघ मे काहला पर प्रदेश सरकार मिलाई कहेला लोग, नगर प्रमुख रौनियार कहले, संघ, प्रदेश, संघ प्रदेश करत करत सुविधायुक्त अस्पताल बनला के वावजूद भी नगरवासी के सेवा नईखे मिले सकत ।

    आर्थिक बर्ष ०७४/०७५ मे १ करोड़ रोपेया के लागत के इस्टिमेटेड डिपिआर तैयार भइला पर भी अर्थ मंत्रालय बजेट ना देहला के चलते पोखरिया स्मार्ट सिटी के काम शुरू ना होखेसकल । स्मार्ट सिटी खातिर १ अरब २१ करोड़ डीपीआर तैयार कईल गईल रहे । अर्थमंत्रालय बजेट ना देहला से काम के आगा ना बढ़ावल जा सकल । उ कहले, १२ गो शहर मे से तीन गो शहर के ही जम्मा बजेट गईल रहे अर्थ मन्त्री अब बजेट देवे के कहले बाड़े । पोखरिया के स्मार्ट सिटी बनावे के योजना के आगा बढ़ावत माघ तक बजेट देवे के अर्थमन्त्री युवराज खातिवाड़ा कहले बाड़े ।

    मांग कईल बजेट से कयो गुणा बहूती दायित्व देखावत शहरी बिकास मंत्रालय बजेट मांग कईले रहे एही से अर्थमंत्रालय से भूक्तानी ना होखेसकल । ओहि से बजेट मे आईल सारा योजना भी प्रभावित भईल रहे अर्थ मन्त्री खातिवाड़ा कहले, अब ओइसन ना होई आ पोखरिया नगरपालिका के योजना के प्राथमिकता मे राखत माघ ले बजेट भेजेम ।

    पोखरिया मे उपसचिव बराबर के प्रमुख प्रशासकीय अधिकृत, शिक्षा शाखा प्रमुख के दरबंदी बा माकिर दरबंदी हिसाब के इंजीनियर भाय कर्मचारी नईखे । काबों प्रमुख प्रशासकीय अधिकृत बदली हो जाला त काबों लेखापाल ही ना रहेला । कर्मचारी स्थिर आ ज़रूरियात हिसाब से ना भइला से नगर के काम प्रभावीत होला । ज़रूरियात कर्मचारीयन के ब्यावस्था क देवे लाय समान्य प्रशासन मन्त्री के ध्यानकर्षण करावल गईल नगर प्रमुख रौनियार बतवले ।

    प्रतिनिधि मंडली मे संबिधान सभा सदस्य राजकुमार गुप्ता, प्रध्युमान चौहान, बिचारी यादव, नेपाल पत्रकार महासंघ के पर्सा अध्यक्ष श्याम बंजारा सहभागी रहे लोग । अनलाइन खबर

    advertisement

    राउर टिप्पणी

    राउर टिप्पणी लिखी
    Please enter your name here