प्रदूषित पानी नदी मे ना छोड़े खातिर रिलायन्स सुगर मिल के प्रशासन देहलख निर्देशन

    726

    वीरगंज, २४ माघ ।

    जिल्ला प्रशासन कार्यालय बारा रिलायन्स सुगर एण्ड केमिकल इंडस्ट्रीज प्रा. लि. के प्रदूषित पानी सीधे नदी मे ना छोड़े खातिर अल्टिमेटम देहले बा । प्रमुख जिल्ला अधिकारी फणीन्द्र मनी पोखरेल के नेतृत्व मे गइल समूह सोमार के बीहनइया स्थलगत अनुगमन करत प्रदूषित पानी सीधे नदी मे ना डाले के निर्देशन देहले बा ।

    प्रमुख जिल्ला अधिकारी पोखरेल उद्धोग के बाउंडरी भीतर स्थलगत अवलोकन करत उद्धोग के प्रदूषण नियन्त्रण करे के आ फूहर पताई के उचित ब्यावस्थापन करे निर्देशन देहले बा युवा नेता मुकेश साह जानकारी करवले । उद्धोग से निकलेवाला पानी अगल बगल के क्षेत्रन मे दुर्गन्ध फइल रहल बा क़हत बिरोध शुरू भइला के बाद प्रशासन समूह स्थलगत निरीक्षण खातिर जहग प पहुचल रहे ।

    बारा के कलेया उपमहानगरपालिका वाड नम्बर २३ श्रीपुर मे रहल उद्धोग से से निकलेवाला पानी मानव स्वस्थ्य आ जनावर खातिर ही खाली ना खेत मे लगावल बाली समेत भी क्षति हो रहल बा स्थानीय जनता के ओरहन रहे ।

    उद्धोग के अगल बगल के क्षेत्र मे रहेवाला ही खाली ना ओह रास्ता से जाएवाला राही बटोही के भी समस्या हो रहल बा स्थानीय लोग बतवलख । समस्या के बारे मे उद्धोग ब्यावस्थापन से सिकायत कइला प उ लोग कवनो किसिम के सुनुवई न कइलख लोग ।

    प्रदूषित पानी नदी मे छोडल बंद ना कइला प कानूनन हिसाब से करवाही करे के प्रमुख जिल्ला अधिकारी पोखरेल जानकारी देहले । ओरहन आइल के जइसन स्थिति देखल गइल, संरक्षण के उपाय अपनावल बा मने एक जगह ना अपनावल देखल गइल ओहि से नदी प्रदूषित हो रहल बा, उ कहले । साँझ तक पोखरा खोनवा के प्रदूषित पानी नदी मे ना डाले के कहले बा लोग । ढिठइ कइला प कानूनी करवाही आगा बढ़ेम, उ कहले ।

    एतवार के दिने रिलायन्स सुगर मिल नदी प्रदूषण कर रहल बा क़हत नेकपा समर्थित राष्ट्रीय युवा संघ नेपाल बारा जिल्ला कमिटी प्रमुख जिल्ला अधिकारी के ज्ञापन पत्र देहले रहले । मुलुकी एन अपराध संहिता २०७४ मे पिएवाला पानी, पानी के श्रोत आ दोसार काम ला प्रयोग होखेवाला पानी दूषित ना करे के ब्यावस्था बा । ओइसन कइला प ६ महिना से तीन साल तक कैद या ५ हजार से तीस हजार रोपेया तक जुर्माना भा दुनु सजाय करे के ब्यावस्था बा ।

    ओइसे ही वातावरण प्रतिकूल असर होखे एह हिसाब से फूहर पताइ जम्मा, प्रशोधन, प्रसारण, निकाला, उत्सर्जन भा ढोवला प भा ढेर लगा के रखला प एक साल कैद भा १० हजार जुर्माना भा दुनु सजाय करे के कानूनी नियम मे लिखल बा । श्रोत : अनलाइन खबर

    advertisement

    राउर टिप्पणी

    राउर टिप्पणी लिखी
    Please enter your name here