बिकास निर्माण मे सब दल एक होखेके जरुरी

91

बीरगंज, ६ चईत

पर्सा मे क्रियाशील अनेकन राजनीतिक दल के अगुवालोग जिल्ला मे देखल गईल अनेकन समस्या के समाधान खातिर आ बिकास के काम करे खातिर एक जुट होखे के बतवलख लोग ।नागरिक संवाद मञ्च पर्सा द्वारा आजू बीरगंज के होटल कुमु प्यालेस मे आयोजना कईल संवाद मे उ लोग राजनीतिक रूप से अलग सोच होखे त का ह माकिर बिकास के सोच एकेगो होखे चाही कह के बिशेष जोड़ देहले लोग ।

राजनीतिक परिवर्तन के आन्दोलन बहुत भईल अब ओकर उपलब्धी जनता के देवे के समय आगईल बा कहले लोग जेकरा खातिर पर्सा के सारा राजनीतिक दल एक होखे के अलावा दोसर बिकल्प नईखे कहले लोग ।

नागरिक संवाद मञ्च के संयोजक ओमप्रकाश सर्राफ जिल्ला मे देखल गईल समस्या के समाधान खातिर राजनीतिक दल एक जगह आवे के अलावा दोसर बिकल्प नईखे बतवले । एतना दिन के राजनीतिक आन्दोलन के बाद नया संरचना मे आईल बानी हमनी, सर्राफ कहले । स्थानीय तह मे जन प्रतिनिधि अईला के बाद भी जनता के समस्या जइसे के तईसे बा । राजनीतिक दल के एकरा प्रति ध्यानकर्षण करे के कहले ।

नेकपा एमाले के युवा नेता मनोज चौधरी राजनीति से उपर उठके बिकास काम मे ध्यान देवे के आग्रह काईले । राजनीतिक मुद्दा मे अलग सोच हो सकता बकीर बिकास खातिर एक सोच के अलावा दोसर बिकल्प नईखे, चौधरी कहले राजनीति से उपर उठ के बिकास करे के परल । बिकास निर्माण के काम मे राजनीतिक निगरानी होखे के चाही । बिकास निर्माण के काम मे राजनीतिक दल के तरफ से समूहिक अनुगमन के आवश्यकता जरूरी बा बतवले ।

फोरम नेपाल पर्सा के प्रवक्ता राम नरेश यादव प्रक्रिया पूरा कईले बिना काम कईला से समस्या देखल गईल बा कह के दाबी कईले । उ राजनीतिक दल के कोर टिम बना के समस्या के समाधान खोजे के बात पर जोड़ देहले । शिक्षा, स्वास्थ्य के साथे अउरी दोसर क्षेत्र मे भी समस्या देखल गईल बा यादव बतवले अभिन त राजनीतिक दल भी बहुति नईखे एगो कोर टिम बनावल जाव आ समस्या के समाधान खातिर बतकही कईल जाव कहले ।

फोरम नेपाल के दोसर नेता शशिकपूर मिया कहले राजनीतिक समस्या के समाधान राजनीतिक रूप से ही करे के परी । विवाद या समस्या अईला से पहिले ओकरा के समझ बुझ के संवाद करे के चाहित मिया कहले ।

राजपा के महासचिव नेजामुदिन समानी बिकास के काम मे सब कोई एक दोसरा के सहयोग कर के आगे बढ़े के बिचार रखले ।  पहिले भी हमनी के कुछ राजनीतिक दल के संयंत्र बनावले रही, गरीबी निवारण मार्फत कईल गईल चाहे दोसर बिकास के काम के अनुगमन कर के सल्लाह सुझाव देत रही बाद मे दल के संख्या बढला के बाद संभव ना होखे सकल ।

माओबादी केंद्र के नेता बाबुराम कौशिक बेमारी के चिन्ह के ओकरा बाद दवाई देवे के चाहि कहले । कौनों भी समस्या के समाधान जब तक ओकरा जर तक ना चहुपल जाई ना होई कहले । जईसे सही बेमरी के चिनहले बिना डाक्टर के दवाई देहला से मरीज ठीक ना होला ओइसे ही सब दल एक जुट होके समस्या के गहिराई तक चहुपे के परी ।

नागरिक संवाद मञ्च के सदस्य शिवनाथ यादव जिल्ला मे देखल गईल अनेकन राजनीतिक समस्या के समाधान दल से ही खोजे के उदेश्य से संवाद आयोजना कईल गईल रहल जानकारी करवले । सेवा केंद्र के बिषय ले के बहुते स्थानीय तह मे आन्दोलन शुरू हो गईल बा ।

स्थानीय तह मे अउरी भी समस्या देखल गईल बा, कहले ‘ राजनीतिक रूप से सृजना कईल गईल समस्या समाधान राजनीतिक दल के ही करे के परल यीहे सोच से यी बतकही आ संवाद कार्यक्रम के आयोजना कईल गईल कहले ।

 

advertisement

राउर टिप्पणी

राउर टिप्पणी लिखी
Please enter your name here