बिपत के बेरा मानव संगे पशुपंछी सब के भी उद्धार कइल ओतने जरूरी – पशुकल्याण संस्था

129
रौतहट के बाढ़ में फसल मालजाल के छत पर राखल के अवस्था । फोटो - ज्ञानबहादुर महतो

वीरगंज, २९ आसार ।

पशुकल्याण ख़ातिर लागल संस्थासब द्वारा तराई मधेस समेंत देशभर आईल प्रकृतिक बिपति में घायल आ मृतक प्रति ध्यानकर्षण करत मानव संगे पशुपंछी के भी उद्धार कइल जरूरी रहल क़हत प्रेस बिज्ञाप्ति निकल ले बा ।

पशु कल्याण में बरसो से काम करत आइल संस्था FAWAN (federation of Animal welfare Nepal), मांडवी, नेपाल भेटेनरी असोशिएशन, स्नेहा केयर, HSI (human society international) द्वारा संयुक्त विज्ञप्ति निकाल के विपत के बेरा पशुकल्याण में भी ध्यान देवे के निहोरा कईल गइल बा ।

तराई-मधेस समेंत देश के अनेकन जगहन पर भारी बारिस के कारण मृत्यु भईल प्रति श्रद्धासुमन ब्यक्त करत शोकसंतप्त सभे कोई लाय समवेदना संस्था बिज्ञाप्ति मार्फत जनवले बा । बाढ़ आ पहाड़ भसकला से आ डुबान में पर के घायल भईल सभे के जल्दी से जल्दी स्वास्थ्य लाभ के कामना के साथे बेपता भईल लोग के जल्दी से जल्दी खोज तलाश करे के संबन्धित सारा निकाय से निहोरा कईले बा ।

बिपत के समय में पशु आ पंछी के उद्धार, खाना, आश्रय, स्वास्थ्य के इलाज आदमी के ऊपर निर्भर भईल के वावजूद भी उद्धार आ पुनर्स्थापना के कड़ि में पशुपंछी ना समेंटला प्रति पशुकल्याण पर समर्पित सारा संस्था के ध्याना आकृष्ट भईल बिज्ञाप्ति में लिखल बा ।

बाढ़ आ पहाड़ भसकला से चाहे डुबान में पर के मृत्यु भईल पशुपंछी सब के उचित तरीका से व्यवस्थापन, घायल भईल पशुपंछी सब के आविलम्ब  उद्धार आ प्रभावित सारा पशुपंछी सब के राहत सामाग्री के ब्यावस्था करे खातिर दैविक व्यवस्थापन समिति, सुरक्षाकर्मी, पशुस्वास्थ्य कार्यालय समेंत दोसर सारा संबन्धित निकास के आगा हमनी बिशेष निहोरा कर रहल बानी बिज्ञाप्ति द्वारा जनावल गईल बा ।

दैविक प्रकोप से प्रभावित पशुपंछी के अवस्था स्थिति के बारे में सूचना सम्प्रेषण मार्फत पशुपंछी कल्याण के कार्य में सहयोग करे खातिर संचारकर्मी लोग के आगा हार्दिक निहोरा कईल गईल बा ।

advertisement

राउर टिप्पणी

राउर टिप्पणी लिखी
Please enter your name here