बिश्वभर मे जटिल स्वास्थ्य समस्या बनल “जिका भाइरस”

176

बिश्वभर मे जटिल स्वास्थ्य समस्या बनल “जिका भाइरस”

 

अमेरेश यादव

न् १९४७ मे पता लागल जिका भाइरस पहिल बेर ब्राजिलमे देखा परल रहे । बिश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लू.एच.ओ.) के अनुसार अभि जिका भाइरस अमेरिका, अफ्रीका, दक्षिण एशिया आ पश्चिमी प्रशान्त क्षेत्रमे जटिल स्वास्थ्य समस्या बनके फइलल बा । आम लोग के खातिर इ भाइरस डेगु के भाइरस से कमजोर होएलाके बावजूद भि ई गर्भवती आ गर्भ धारण करेवाला महिला लोग खातिर खतरनाक साबित हो रहल बा । काहे कि इ रोग लागल मातारि से जन्मल शिशु मे माइक्रो सिफैली जइसन घातक न्युरोलजिकल डिस्अडर हो जाला । अभिन तकले इ भाइरस के संक्रमण नेपाल मे ना भइल महामारी तथा रोग नियंत्रण महाशाखा जनइले बा ।

  • जिका भाइरस से कवन लोग के बिशेष सावधान होखे के चाहि ?  
    • गर्भवती
    • गर्भ धारण करेवाला महिला लोग के ।
  • जिका भाइरसके संक्रमण आदमी मे कइसे होला ?
    • एडिस अगिप्टी जात के मोच्छर के कटला से जवन दिन मे ज्यादा तर काटेला ।
  • भइरस संक्रमण के लक्ष्ण सब
    • बोखार लगनाइ
    • मुरि (कापर) दुखाई
    • जोर्नी आ मांसपेशी मे दर्द
    • लाल- लाल चकता देहमे उठनाइ
    • ऑख लाल होनाइ आ किचरसे भर जनाइ
    • संक्रमित मातारी से जनमल शिशु मे माइक्रो सिफैली जइसन घातक न्यूरोलजिकल डिस्अडर लउकनाई ।
    • जिका प्रभावित बच्चा मे अच्चनक से हात गोर मे कमजोरी होके लोथ हो जाला यानिकी गुलेन बेयर सिन्ड्रोम के संक्रमण देखा पड़ेला ।
  • जिका भाइरस के संक्रमण भईल कइसे पता लागि ?
    • संक्रमण भईल ना भईल खून जॉचसे पता लागि ।
  • बाँचके उपाय सब
    • जिका भाइरस फैलावे वाला मोच्छर डेगु आ चिकेन गुनिया भि फैलावेला आ इ मोच्छर अधिकतर दिन मे काटेला ओहिसे दिन मे होखे भा रात मोच्छर से बाच के रहेके चाहि ।
    • अभिन तकले कवनो भैक्सिन इ जिका भाइरस खातिर उपलब्ध नइखे ।
  • इलाज
    • अभिन तकले कवनो दवा उपलब्ध नइखे ।
    • रोगि के लक्षण अनुसार के उपचार कएल जाइ । जइसे मे:-
      • समान्य से ज्यादा अराम
      • समान्य से ज्यादा झोल पदार्थ के सेवन
      • बोखार, कपरबथ्थि, मास आ जोर्नी दुखाइ खातिर सिटामोल खा सकेला जिका प्रभावित रोगी ।
      • माकिर दोसर दवा जइसे मे एस्प्रिन, आईबुरुफेन, नेप्रोकसिन जइसन कवनो दवा खाए से पहिले डॉक्टरसे भेट के सल्लाह आ चेक जॉच करावे के चाहि ना त जिका के लक्ष्ण से मिले बाला डेगु भेइला पर ज्यादा रक्त सराव होके ज्यान भि खतरा मे पर सकेला ।
advertisement

राउर टिप्पणी

राउर टिप्पणी लिखी
Please enter your name here