बेटि के वियाह २० वरीष में ना १६ वरीष में करे के चाहीं – सांसद करीमा बेगम

450

वीरगंज , माघ १८

प्रदेश २ के सांसद करिमा बेगम कानुन के आलोचना करत बेटि सभन के वियाह १६ वरीष मे करेके बतवले बाडि ।

बियफे के प्रदेश सभा बैठक मे बोलत संघीय सरकार के पूर्वमन्त्री तक रहल बेगम कानुन के खिलाफ अभिव्यक्ति देहले बाडि ।

सत्तारूढ संघीय समाजवादी फोरम के सांसद बेगम २० वरष पहुचलाबाद ही बेटि के वियाह करेवाला कानुन लिआके गल्ती भईल बतवनी । उहाँ के कहनी, “ बेटि सभन के बियाह के खातिर २० वरष तक रुकल जाई त बिग्रेके डर भईला से १६ वरष भितर बियाह करेके सहि समय होई ” ।

बेटि के बियाह २० वरष के बाद करेके भईला से भागके करेवाला वियाह के संख्या बढल उहाँके तर्क बा । सांसद बेगम माई बपसी के इज्जत जोगावेला भी कम उमीर में वियाह करेके ठिक रहल जिकिर कईनी ।

प्रदेश सरकार ही बेटि सभन के सामूहिक वियाह के आयोजना करो, बेगम के सुझाव बा । ‘एहसे गरिब माईबपसी आपन बेटाबेटि के बियाह मे कम खर्चा में कर सकेके उहा के कहनी ।

एहसे पहिले भी बलात्कार के बारे में बेगम विवादास्पद अभिव्यक्ति देहले रहली । लईकी के पहिरेवाला छोट कपडा के कारण बलात्कार के घटना बढल उनकर तर्क बा ।

एहसे पहिले कृषि राज्यमन्त्री भईल बेर निमन गाडी ना देहल कहत पर्सा के तत्कालीन सीडीओ दुर्गाप्रसाद भण्डारी के झापड मार के चर्चीत भईल रहली । पहिलका संविधानसभा निर्वाचन ०६४ साल में पर्सा–१ से चुनाव जितल करीमा बेगम ०६६ मे कृषि राज्यमन्त्री बनल रहनी ।

advertisement

राउर टिप्पणी

राउर टिप्पणी लिखी
Please enter your name here