रौतहट के कटहरीया नगरपालिका के मेयर आ उपमेयर बिच मनमोटाव, नगरवासी दिक्दारी में

261

बिमला गुप्ता । सावन ४ ।

रौतहट के कटहरीया नगरपालिका के उप–मेयर नुरजहाँ खातुन, मेयर सियाराम कुशवाहा के हैकमबादी सुभाव के कारण नगरपालिका ना निमन से प्रभावित भईल दोष लगवले बाड़ी । अभी कहटरीया नगरपालिका में बिकास के काम से भी मेयर आ उप–मेयर बिच के आपसी बिवाद चारुओरी चर्चा के बिषय बनल बा ।

न्यायिक समिति के संयोजक तक रहल उप–मेयर खातुन अपने अन्याय में परल बतवली । अभी आपना के हक अधिकार अनुसार के काम करे ना देहल आ अकेले मनमानी कर रहल कहत उप मेयर नुरजहा खातुन खुदे अन्याय मे पड़ल कहके सही न्याय के खातिर मेयर के विरोद्ध में जनकपुर उच्च अदालत के अस्थायी इजलाश वीरगंज में मुद्दा दायर कइले बाड़ी ।

बितल चैत २५ गते दुसरका नगर सभा के बार्षिक निती तथा कार्जक्रम मे तक आपना के सहभागी ना कराके एकलौटि रुप में कार्यक्रम कईल उप–मेयर खातुन के अरोप बा । जेकरा चल्ते न्याय के खातिर अदालत तक पहुचल बतवली । एगो मुद्दा चलरहल अवस्था मे फेन इहे आसाढ २५ गते आर्थिक वरीष २०७६/०७७ के खातिर होरहल तीसरका नगर सभा मे भी आपना के कवनो खबर ना कईल उन्कर आरोप बा ।

नगर सभा के ही दिन जानकारी मिलते उपमेयर सहयोगी लोगन के साथे नगर सभास्थल मे पहुचली बाक़िर बोलेके बेरीया मेयर के ही निर्देशन में वहुते संचार माध्यम मे प्रत्यक्ष प्रसारण होरहल माईक बन्द करदेहल गईल । बाद में अपने से तार जोड़ के मंच में नगरवासी समक्ष आपन समस्या राखत नगर सभा बहिस्कार कईली । लगलिए सञ्चारकर्मी सभन से कहली ,‘आपन अधिकार खोजला के बाद मेयर उल्टे राजनीतिक रुप मे अकेला बनादेवे के धम्कि देहल करेलन ।’

आव ०७६/७७ के नगर सभा भी बहुमत के बल में मेयर सियाराम कुशवाहा विकास के रोपेया खर्चा करके नगर सभा कईल के दोष बा । नगर परिषद् होखत बेरीया कवन शिर्षक में केतना बजेट छाटल बा एकरा बारे मे पुछला बाद प्रमुख प्रशासकिय अधिकृत मनोज रजक भी कवनो जानकारी ना देवेके उप मेयर खातुन के कहनाम बा ।

कटहरिया नगरपालिका में मेयर आ उप मेयर एके गो पार्टि तत्कालिन माओवादि पार्टि से निवार्चित जनप्रतिनिधि हवन । बाक़िर पार्टि के उपरला नेता सभन के धाकधम्कि देखावत मेयर आपना के अनुगमन समिति के संयोजक तक भईला बाद भी केन्हउ विकास के अनुगम तक करे ना देवेके सिकाईत खातुन के बा । उन्कर कहनाम बा की ई हे कुल कारण से अभीन तक न्यायिक समिति के काम शुरू होखे नईखे सकल ।

मनमोटाव के शुरूवात कटहरिया नगरपालिका के पहीलका नगर सभा मेयर सियाराम कुशवाहा के नेतृत्व में बिना कवनो विवाद भईल बाक़िर उ पर्सा जिल्ला के विश्व हीन्दु परिषद के अध्यक्ष काशी तिवारी के हत्याकाण्ड में अझुरईला के चल्ते कर्तव्य ज्यान मुद्दा मे फागुन २८ गते अदालत के फैसला अनुसार कारागार चलान भइनी आ करिब ९ महीना जेल में रहेके पड़ल । मेयर कुशवाहा ना भईल बेरीया नगरपालिका के सभी काम उप–मेयर नुरजाहा खातुन ही सम्हरली ।

तत्कालिन ए माओवादी से ही निर्वाचित उपमेयर खातुन मेयर कुशवाहा के जेल चलान भईला बाद नगरपालिका के काम काज इमानदारी पूर्वक करेके केतनहुं कोशिस कईला बाद ओह बेरीया अपने पार्टी से निर्वाचित वार्ड अध्यक्ष सभन के असहजोग कईला के चल्ते मेयर के अनुपस्थिति मे दोसरका सभा करेमे दिक्दारी भईल । मेयर जेल में रहत बेरीया भेंट करे गईल आपन पार्टि के वार्ड अध्यक्ष सभन के अपने जेल से छुटला बाद ही दोसर नगर सभा करेके आदेश देहला के चल्ते ओह बेरीया वार्ड अध्यक्ष सभन के बेर बेर कार्यपालिका के बैठक मे नगर सभा करे खातिर निहोरा कईलाबाद भी ना मानल खातुन के कहनाम बा ।

वार्ड अध्यक्ष सब मेयर कुशवाहा अईला बाद ही नगर सभा करेके प्रतिक्रिया देहल करेके उन्कर कहनाम बा । ओहबेरीया उप–मेयर भ्रष्टाचार कईल आरोप भी लागल । एहतरे मेयर आ उप–मेयर बिच के आपसी मतभेद के चल्ते बितल चैत्र अन्तिम सप्ताह के ओर दोसर का नगरसभा ओरीयाईल ।

उपमेयरआपन हीस्सा मागंलाबाद बात बिगडल हवे–मेयर सियाराम कुशवाहा 

उपमेयर के आरोप निराधार रहल मेयर सियाराम कुशवाहा बतवले । बेर बेर उममेयर के सहमति के खातिर कोशिस कईले बानी बाक़िर उपमेयर आपन अडान मे बाड़ी । स्थानीय सरकार सञ्चालन के १६५ के बुंदा में राजस्व परामर्श समिति के व्यवस्था बा । नगर सभा बईठे से पहीले उन्करा राजस्व परामर्श समिति के बैठक रखके प्रतिवेदन पेश करेला उपमेयर के कहनी ।

जेठ १४ गते कार्यपालिका के बैठक मे भी रिपोर्ट पेश करेके निर्णय सम्प्रेशन भईल, असार ४ गते भी बैठक मार्फत रिपोर्ट लेआई, बेर बेर कहला बाद भी ना लेअवला बाद कार्यपालिका के ही निर्णय मानके आसाढ २५ गते नगर सभा भईल ।

कार्यपालिका से आदेश भी नईखी मानल ,गाडी सुविधा, महीना के २५ हजार के हीसाब से ३ लाख लेहले बाड़ी ,न्यायिक समिति सञ्चालन वापत भी पैसा ले चुकल बाड़ी । उन्करा से प्रश्न बा कर्मचारी ना पहुचल कि कवन कारण से न्यायिक समिति शुरू ना होखे सकल । नगर सभा से २ जने सदस्य भी देहल गईल बा बाक़िर न्यायिक समिति संयोजक भईला के चल्ते बैठक नईखी बईठइले । नगर सभा ऐन के खिलाफ भईल कहत बदर के खातिर रिट देहले बानी बाक़िर हम सभी निर्णय पेश कईन आ ओकराबाद अदालत एक जने के कारण नगर सभा ना रोकेके कहत असार १७ गते जनकपुर उच्च अदालत अस्थायी इजलाश वीरगंज उन्कर रिट खारेज करदेहलख । ४९ जने मेसे एक जने नगर सभा सदस्य जेल मे बाड़न, बाकी ४८ मेसे उन्करा अलावा ४७ जने नगर सभा होखेके पड़ि कहके पक्ष में रहनी ओहीसे हमनी के तिसरका नगर सभा सम्पन्न कईनी ।

उपमेयर खातुन के मन के बात हवे कि हमरा बितल बरीष में नगर में काम करे ना मिलल त हमरा बिकाश करेला ४ करोड रोपेया छोडि जे से हम नगर के बिकाश कर सकि बाक़िर उहाँके जब ओतना रोपेया मांग कइली त हम ओह रोपेया बराबर के योजना मंगनी । उपमेयर योजना ना लियइली ओहीसे हमनी बजेट विनियोजन करेनासकनी । आपना ९ महीना जेल मे भईल बेरी सभी काम उप–मेयर ही सम्हरली अब हम आ चुकल बानी फेरु अभीनो उनकर सोच नईखे बदले सकल ।

न्यायिक समिति शुरू ना भईला से नगरवासी के कठिनाई

मेयर आ उप–मेयर के आपसी बिवाद के कारण चुनाव बितल दु बरीष बिते लागल बाक़िर कटहरीया नगरपालिका में अभीन तकले न्यायिक समिति संचालन नईखे भइल । जेकरा कारण नगरवासी अभीन तक स्थानिय स्तर में ही मिलेवाला न्याय से बञ्चित बाड़े ।

सरकार स्थानीय तह सञ्चालन ऐन अनुसार हरेक पालिका मे एगो न्यायिक समिति के गठन करके सेवा देवेके व्यवस्था कईले बा । स्थानीय तह के वादविवाद आ झगडा स्थानीय स्तर से ही मेलमिलाप करके सुल्झावे के, दोषी के आवश्यक कानुन बोमोजिम कारवाही के खातिर सिफरीस करेला एकर व्यवस्था कईल गइल बा । आउर पालिका सभन के न्यायिक समित आपन काम कारवाही शुरु कर चुकल बा बाक़िर कटहरिया नगरपालिका मे न्यायिक समिति के बैठक राखके काम शुरु होखे नईखे सकल । जेकरा कारण नगर के जनता सभन के स्थानीय तह से न्याय मिले से बञ्चित हो गइल बाड़न। न्यायिक समिति संचालन मे ना अईला बाद स्थानियवासी के जिल्ला अदालत दौडे के पड़ रहल बा ।

advertisement

राउर टिप्पणी

राउर टिप्पणी लिखी
Please enter your name here