वीरगन्ज सहित देशभर कलमके देवता श्री चित्रगुप्त भगवानके पुजा सम्पन्न भइलबा वीरगन्ज सहित देशभर कलमके देवता श्री चित्रगुप्त भगवानके पुजा सम्पन्न भइलबा

 वीरगन्ज सहित देशभर कलमके देवता श्री चित्रगुप्त भगवानके पुजा सम्पन्न भइलबा वीरगन्ज सहित देशभर कलमके देवता श्री चित्रगुप्त भगवानके पुजा सम्पन्न भइलबा

हरेक वर्ष के तरह इ वर्ष भि विधि पुर्वक चित्रगुप्त भगवानके पुजा सम्पन्न भइलबा । वीरगन्जके माइस्थान से घडिअरवा जाएबाला रास्ताके बगलमे रहल चित्रगुप्त मन्दिरमे पुजा सम्पन्न भइलबा ।
ओहितरे वीरगन्ज महानगरपालिका वाड न १७ मे रहल
श्री चित्रगुप्त भगवानको मन्दिरमे भि पुजा सम्पन्न भइलबा।

इ वर्ष कोरोनाके कहर के कारण मन्दिरके प्राङग्नमे उपस्थित नाहोखे आपन आपन घर सेहि फेसबुक से प्रतेक्षप्रसारण देखके भगतजन पुजा कैलेबा ओइसहि कुछमात्रामे मन्दिरमेही आके इ वर्ष पुजा मनावल गैलबा।
चित्रांशसहित (कायस्थ) ओर भी बहुतलोग भगवान चित्रगुप्तके रोजाना पूजा करेलालोग लेकिन हरेक वर्ष, कार्तिक शुक्ल पक्ष द्वितीयाके उनकर वार्षिक उत्सव देश ओसहि विदेशमे धुमधामसे मनावल जाला।

भगवान चित्रगुप्तके वर्णन पाद्य पुराण, स्कन्द पुराण, ब्रह्मापुराण, यमसंहिता र यज्ञवल्क्य स्मृति जइसन बहुत धार्मिक ग्रंथसबमे उल्लेख रहलबा।

श्री चित्रगुप्त भगवान सृष्टिकर्ता ब्रह्माके शरीरसे उत्पन्न भइल ग्रंथसबमे उल्लेख रहलबा ।इ वंशके भगवान ब्रह्माके शरीरसङ्घे सम्बनधके कारण कायस्थ कहल जाला। चित्रगुप्त मन्दिर नेपालके बिविन्न ठाउँसबमे रहल बा। कहुं उहाँके स्वतन्त्र मन्दिर बा , त कहुं उहाँ देवीदेवता, शिवशंकर ओर सूर्य नारायणके मन्दिरमे एक साथ रखके पुजा कइल जाला। चित्रगुप्त भगवानके पुजा कइलासे मुक्ति, भुक्ति, मोक्ष ओर यशके प्राप्ति होखेके मान्यता रहल बा ।

Digiqole ad Digiqole ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *