वीर अस्पताल में मृत शरीर से अंग निकाले के आरोप पर, का कहता अस्पताल ?

 वीर अस्पताल में मृत शरीर से अंग निकाले के आरोप पर, का कहता अस्पताल ?

काठमाण्डू, ७ कुवार ।

वीर अस्पताल में कुछ दिन पहिले एक कोरोना संक्रमित मृतक के मृत शरीर से अंग निकालल गईल कहत अनेकन सामाजिक सञ्जाल आ सञ्चारमाध्यम में प्रकाशित भइला प्रति अस्पताल के ध्यानाकर्षण भईल अस्पताल जानकारी करवले बा ।

कैदी रामलखन जैसवाल के मृत शरीर सडल गलल अंग के रुप में परिर्वतन भईल अस्पताल विज्ञप्ति मार्फत जानकारी करवले बा।

३ दिन पहिले केन्द्रीय कारागार से वीर अस्पताल लियावल गईल उनका के तत्काले मृत्यु भइल अस्पताल जनवले बा। शव गृह में राखल लाश सडे गले लागला पर आ अंग सब परिर्वतन भईल अस्पताल के कहनाम बा।

वितल ३ दिन से मृतक के लाश शवगृह में रहला से सडे गले के प्रक्रिया शुरु हो चूकल लाश में फोका उठल, सुन्नि सुझल आ मुह आ नाक से तरल पदार्थ निकल रहल अवस्था में रहे । लाश के उपयुक्त रेफ्रिजेरेट में नाराखला से होखेवाला सामान्य प्रक्रिया ह’ अस्पताल के कहनाम बा।

मृतक के परिवारजन अस्पताल में अंग चोरी भइल के आरोप लगवले बा लोग ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *