श्रीलंका आतंकी आक्रमण : गिर्जाघर आ होटल मे भइल बम आक्रमण मे २०० से बहूती के मृत्यु

    138

    बईशाख, ०९ सोमवार ।

    श्रीलंका गिर्जाघर आ होटल मे भइल लगातार बम ब्लास्ट भईला से २०० सय से बहुती आदमी लोग के मृत्यु भईल बा, उहा के अधिकारी लोग बतवले बा । श्रीलंका प्रहरी के प्रवक्ता के हिसाब से अभी तक २०७ जने के मृत्यु भईल के पुष्टि हो चुकल बा ।

    एतवार के दिने सबेरे देश के अनेकन स्थान मे रहल गिर्जाघर आ होटल मे कम से कम ६ गो बम ब्लास्ट भईल रहे । ओकरा बाद भी फेर २ जगह पर ब्लास्ट भईल । यी सब घटना मे ५०० सय से बहुती आदमी घायल भईल के जानकारी मिलल बा ।

    समाचार संस्था एएफपी के हिसाब से घटना मे कम से कम ३५ गो बिदेशी नागरिक के मृत्यु भईल बा । एकरा से पहिले श्रीलंकन प्रधानमन्त्री कार्यालय १६० जने के मृत्यु के पुष्टि कईले रहे जेमे ९ जने बिदेशी रहे लोग के मृत्यु भईल  बतावल गईल रहे ।

    कर्फ़्यू आ धरपकड़

    बीबीसी संवादता अज़्जाम अमीन के हिसाब से अनेकन जगह से घटना मे सामील भईल शंका मे ७ जने के पकडल गईल बा । रक्षामन्त्री घटना के बारे मे जानकारी करावत लगभग सब घटना मे आत्मघाती आक्रमण भइल बा आ उ सब एके गो समूह करवले बा बतवले बाड़े।

    सुरक्षाकर्मी कुछ जगहन पर छापा मरले बा लोग । घटना के बाद श्रीलंका के राष्ट्रपति राष्ट्र के नाम मे सम्बोधन करत देशवासी के शान्त रहे के निहोरा कईले । उ फेरु से आक्रमण ना होखेदेवे आ ब्लास्ट के करवले बा उ पता लगावे खातिर सुरक्षाकर्मी के खटवाल गईल बा बतवले । श्रीलंका मे देश भर ही एतवार के संझिया ६ बजे से आज सोमार के ६ बजे तक कर्फ़्यू लगवाल गईल रहे ।

    कहा भईल ब्लास्ट

    ब्लास्ट होत बेरा ईसाई धर्मावलम्बी लोग कोच्चिकाड़े बट्टिकलोआ आ कटुवापिटिया जिल्ला मे रहल गिर्जाघर मे ईस्टर पर्व के अवसर पर आयोजित धार्मिक कार्यक्रम मे सहभागी होत रहे लोग । श्रीलंका के एगो बुजुर्ग पादरी घटना के बाद एतवार सांझ के प्रथना के कार्यक्र्म स्थगित कईल गईल बतवले ।

    प्रधानमन्त्री रनिल विक्रमसिंघे घटना के निंदा करत सब देशवासी के शांत रहे के निहोरा कईले । श्रीलंका के अर्थमन्त्री रनिल मंगल समरवीर निर्दोष आदमी लोग के जान लेते आरजकता सिर्जना करावे के प्रयास स्वरूप यी ब्लास्ट करावल गईल बा क़हत प्रजातन्त्र, स्वतन्त्रता आ आर्थिक समृद्धि चाहेवाला सब कोई के एक जुट होखे के निहोरा कईले ।

    के करवलख ब्लास्ट ?

    अभी तक बम ब्लास्ट के जिम्मा कोई नईखे लेहले । श्रीलंकन रक्षामन्त्री रुवान विजेवर्द्ने यी घटना के आतंककारी घटना क़हत दोषी को पहिचान हो चुकल बा बतवले । उ घटना के बारे मे गुप्तचर बिभाग, प्रहरी आ सेना अनुसंधान कर रहल बा क़हत देश मे संचालित कौनों भी अतिवादी के बिरोद्ध मे समूहिक करवाही करे के घोषणा भी कर दहले ।

    हमनी ज़रूरियात हर किसिम के करवाही करेम । उ सब कौनों किसिम के धार्मिक अतिवाद मे लागल होखे पर उ लोग के ना छोडल जाई बतवले । यी घटना के दोषी जल्दी से जल्दी पकडल जाई काहे की उ लोग पहिचान हो चुकल बा बतवले ।

    सुरक्षा ब्यावस्था

    सरकार बम ब्लास्ट के बाद हावाईअड्डा आ दोसार संवेदनशील जगहन पर सुरक्षा ब्यावस्त्था बढ़ा देहले बा । कर्फ़्यू घोषणा करे से पहिले ही सरकार दु दिन सरकारी बिधालय बन्द करे के निर्णय कईले रहे ।

    advertisement

    राउर टिप्पणी

    राउर टिप्पणी लिखी
    Please enter your name here