समाजवादी पार्टी सरकार छोडलस, उपेन्द्र यादव देहले राजीनामा

    160
    समाजवादी पार्टी अध्यक्ष
    समाजवादी पार्टी अध्यक्ष

    काठमांडू, ९ पुष ।

    समाजवादी पार्टी सरकार छोडले बा । समाजवादी पार्टी के उपेन्द्र यादव आ मो. इस्तियाक राई मंगर ए दिने प्रधानमन्त्री केपी शर्मा ओली के आपन आपन राजीनामा देहले बा लोग । उपप्रधानमन्त्री आ कानून मन्त्री यादव सोमार के दिने मन्त्रीपरिषद के बैठक मे संविधान संसोधन के प्रस्ताव दर्ता करावे के प्रयास कईला पर प्रधानमन्त्री ओली उ लोगन के रोकले रहले ।

    ओकरे बिहान भईला मंगर के दिने समाजवादी पार्टी के दुनु अध्यक्ष डा. बाबुराम भटराई आ यादव समेत उपस्थिती अनेकन पदाधिकारी समेत के बीच बैठक भईल रहे । बैठक मे सरकार छोड़े के निर्णय कईला के बाद दुनु मन्त्री लोग आपन राजीनामा प्रधानमन्त्री के देहले लोग ।

    प्रधानमन्त्री ओली के सम्बोधन करत राजीनामा मे संविधान संशोधन प्रस्ताव अस्वीकार क के सरकार पहिले भईल दु बुंदा के सहमति से पाछा हटल कहल गईल बा । भईल सहमति के एकतरफ़ी रूप से तुरल गईल एही से नैतिकता के आधार मे सरकार मे रहला के कौनों मतलब ना भईल एही से आजू के मिति से ही उपप्रधानमन्त्री आ कानूनमन्त्री पद से राजीनामा देहल गईल लिखल बा ।

    तत्कालीन संघीय समाजवादी पार्टी सरकार मे सहभागी करावे खातिर नेकपा अध्यक्ष ओली आ पुष्पकमाल दाहाल प्रचण्ड बढ़िया समय देख के संबिधान संशोधन करे के दु बुंदा के सहमति कईले रहेलोग । पर अब नया शक्ति पार्टी से एकता के बाद समाजवादी पार्टी बनते यादव ऊपर सरकार छोड़े के दबाव बढ़ गईल रहे ।

    पिच्छला बेरी प्रधानमन्त्री ओली मन्त्रीपरिषद गठन कईले तबों समाजवादी के राज्यमंत्री के हटावला के संघही यादव से स्वस्थ्य मन्त्रालय छिन के कानून मन्त्रालय मे भेजले रहले । ओह बेरा भी सरकार छोड़े के आवाज उठल रहे ।

    संसदीय दल के बैठक मे सहभागी होखे खातिर सिंहदरबार मे संसदीय दल के कार्यालय मे पहुचल समाजवादी के संघीय परिषद अध्यक्ष भट्टराई सरकार छोड़े के निर्णय के योजनाबद्ध कईल “रिहर्सल” ह कहले रहले । संचारकर्मीयन के छोट प्रतिकृया मे उ कहले रहले “ आज रिहर्सल भईल ह, बिहान ड्रामा होई”

    समाजवादी पार्टी आजू बुध के दिने सबेरे ११ बजे संघीय परिषद के बैठक बोलवले बा । नेतागण लोग के माने त आजू के बैठक मे सरकार के देहल समर्थन वापिस लेवे के औपचारिक निर्णय काइल जाई । समर्थन वापिस होते ही ओली के दु तिहाई के सरकार ना रही । अनलाईन खबर

    advertisement

    राउर टिप्पणी

    राउर टिप्पणी लिखी
    Please enter your name here