साहित्य वेगर जिवन अधुरा : मुख्य मन्त्री गद्दी

237

आस/पर्सा, २७ सावन ।
साहित्य वेगर जिवन अधुरा रहल प्रदश नं. २ के मुख्य मन्त्री लालबाबु राउत गद्दी बतइले बानी । वीरगंज मे आयोजित नेपाल–भारत साहित्य महोत्सव के उदघाटन करत मुख्य मन्त्री गद्दी साहित्य के सिमा ना भइल आ साहित्य वेगर जिवन अधुरा भइल बतइनी ।

साहित्य पढेवाला लोग कभी बुढा ना होखे के मुख्य मन्त्री गद्दी के कहनाम रहे । साहित्य भाषा के जिवित राखे के आ भाषा सांस्कृतिक के जिवित राखे के मुख्य मन्त्री गद्दी वतइनी । नेपाल आ भारत विच सिमा करते दुरी रहला पर भी रंग, रुप मे कुछु फरक ना रहल उंहा के कहनाम रहे ।

मोहत्सव से नेपाल भारत विच के रोटी आ बेटी के सम्बन्ध और मजुत बनावे के समेत वतइनी । जिवन खुसी वनावे खातिर भी साहित्य जरुरी रहल मुख्य मन्त्री गद्दी के कहनाम रहे ।

नेपाल–भारत सहयोग मंच के अध्यक्ष अशोक वैद के सभापतित्व मे भइल कार्जक्रम मे आर्चाय महाश्रमण विदुषी शिष्या समणी डा. चरित्र प्रज्ञा, समणी रत्न प्रज्ञा, ग्रिन केयर सोसाइटी, भारतका अध्यक्ष डा. विजय पण्डित, हिमालनी मासिक के प्रवन्ध निर्देशक सचितानन्द मिश्रा, नेपाल–भारत सात्यि महोत्सवका संयोजक गणेश प्रसाद लाठ ज्यू लगायत के लोग मन्तव्य राखले रहनी ।

वीरगंज के आदर्शनगर स्थित रहल जैन भवन मे सुरु भइल साहित्य महोत्सव विहान २८ गते तक चले के आ मोहत्सव मे भारत आ नेपाल साहित्य लोग आपन आपन प्रस्तुती राखेके जनावल गइल बा ।

advertisement

राउर टिप्पणी

राउर टिप्पणी लिखी
Please enter your name here