सोहरैया (दीपावली) आ छठ परव के रौनक में डुबल वीरगंज

206

वीरगंज, कातिक २० ।

हिन्दू धर्मावलम्बी के महान परव सोहरैया (दीपावली) के अन्तिम तयारी के साथे वीरगंज लगायत सम्पूर्ण मधेश भर छठ परव के रौनक भी शुरू होगइल बा । कूआर महिना के कृष्ण पक्ष के अमावस तिथि के दिन लक्ष्मी पूजा अर्थात सोहरैया (दीपावली) मनावल जाला । लक्ष्मी पूजा के ठीक चार दिन बाद अर्थात कातिक महिना के शुक्ल पक्ष के चौथी तिथि के दिन से छठ परव विधिवत रूप से शुरू हो जाला । छठ पूजा मधेश में रहेवालन भोजपुरी आ मैथली भाषी हिन्दू समुदाय के प्रमुख परव हवे । दीपावली अर्थात लक्ष्मी पूजा मधेशी लोग के दूसरका सबसे बड़का परव हवे ।

दशहरा के दिन से सोरहवा दिन सोहरैया अर्थात दीपावली परव खातिर वीरगंज सहित समूचा मधेश भर के बजारन में किन मेल के अन्तिम तयारी चल रहल बा । इहाँ के बाजारन में दीपावली के साथे साथ छठ परव खातिर भी अभिए से बंदोबस्त कईल शुरू होगइल बा । दीपावली खातिर समूचा बाजार के रंगबिरंगी बत्ती झालर से सजावल गइल बा ।

सोहरैया के बितते चार दिन बाद से ही छठ परव शुरू होगइला से इहाँ के बाजार में अभिए से छठ पूजा खातिर चाहेवाला सामाग्री के किनमेल शुरू हो गइल बा । छठ पुजा खातिर चाहेवाला बाँस के टोकरी, डगरा आ सुपली, माटी के कलश, ढकनी, कोशी आ दियरी के साथे जरूरत परेवाला कपड़ा, फलफूल, तेल, मशाला जैसन खाएवाला सामाग्री सब के दोकान में ग्राहक लोग के भीड़ लागल बा ।

वीरगंज के घंटाघर चउक से लेके माइस्थान आ आदर्शनगर तक के सड़क खण्ड में जगह जगह दोकानदार लोग सोहरैया के साथे छठ परव खातिर बाँस आ माटी के सामाग्री करीब २ सय के संख्या में संचालन बाड़ सन । दीपावली आ छठ दुनु खातिर एके बेर सरसमान किनला पर सहज रही कहके स्थानीय लोग दुनु परव खातिर बजार में किनमेल कर रहल देखल जाता ।

advertisement

राउर टिप्पणी

राउर टिप्पणी लिखी
Please enter your name here